आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी भजन लिरिक्स

0
3372
बार देखा गया
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी भजन लिरिक्स

आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी,
आई मै तोरे अंगना माँ भवानी,
पड़ी है संकट में हो,
पड़ी है संकट में ये जिंदगानी,
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी।।

तर्ज – भटकता डोले काहे प्राणी।



बनालो मुझे दासी अपने घर की,

बनालो मुझे दासी अपने घर की,
यही है मेरी लालसा हो,
यही है मेरी लालसा हो मातारानी,
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी।।



चंदा ऐसा मुखड़ा चम चम चमके,

चंदा ऐसा मुखड़ा चम चम चमके,
मैया तेरी चुनरी हो,
मैया तेरी चुनरी हो लासानी,
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी।।



खड़े सब तेरे आके द्वारे,

खड़े सब तेरे आके द्वारे,
दया हो मेरी मैया हो,
दया हो मेरी मैया हो तू है दानी,
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी।।



यही एक विनती सुन लो मेरी,

यही एक विनती सुन लो मेरी,
दरश मुझे दे दो हो,
दरश मुझे दे दो हो माँ भवानी,
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी।।



देखा है तेरी लीला कंस पापी,

देखा है तेरी लीला कंस पापी,
अमर तेरी मैया हो,
अमर तेरी मैया है कहानी,
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी।।



आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी,

आई मै तोरे अंगना माँ भवानी,
पड़ी है संकट में हो,
पड़ी है संकट में ये जिंदगानी,
आई मैं तोरे अंगना माँ भवानी।।

Singer : Tripti Shakya


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम