हो आज्या अंजनी दुलारे हो जोत जगाई तेरी

0
156
बार देखा गया
हो आज्या अंजनी दुलारे हो जोत जगाई तेरी

हो आज्या अंजनी दुलारे,
हो जोत जगाई तेरी।।



सालासर में मंदिर तेरा,

आऊँ तेरे द्वारे हो,
लाल लंगोटा ले क लाऊँ,
तेरे जयकारे हो,
अर्जी लगाई तेरी हो,
हो आजया अंजनी दुलारे,
हो जोत जगाई तेरी।।



मेंहदीपुर में जा क देखी,

तेरी शान निराली हो,
प्रेतराज और भैरव बाबा,
संकट काटं भारी हो,
करं सं दुहाई तेरी,
हो आजया अंजनी दुलारे,
हो जोत जगाई तेरी।।



तेरी जोत प आ क बाबा,

संकट नाचे भारी हो,
खाण पिण भी कुछ ना देता,
हो री स लाचारी हो,
आश लगाई तेरी हो,
हो आजया अंजनी दुलारे,
हो जोत जगाई तेरी।।



तेरे बिना इस जग में,

कोए भी ना मेरा हो,
रमेश नांगलिया ने तेरे दर प,
आ क लाया डेरा हो,
रात जगाई तेरी हो,
हो आजया अंजनी दुलारे,
हो जोत जगाई तेरी।।



हो आज्या अंजनी दुलारे,

हो जोत जगाई तेरी।।

भजन प्रेषक – राकेश कुमार जी,
खरक जाटान(रोहतक)
( 9992976579 )
वीडियो उपलब्ध नहीं है।


 

आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम