बज गए ढोल नगाड़े होय क्या बात हो गई भजन लिरिक्स

0
1703
बार देखा गया

बज गए ढोल नगाड़े,
होय क्या बात हो गई।

तर्ज – छुप गए सारे नज़ारे।


बज गए ढोल नगाड़े,
होय क्या बात हो गई,

मुरली वाले से अपनी,
मुलाकात हो गई,

खाटू वाले से अपनी,
मुलाकात हो गई,

बंशी वाले से अपनी,
मुलाकात हो गई।।



शुभ दिन आया के शुभ घडी आई,
बंटने लगी है बधाई,

शुभ दिन आया के शुभ घडी आई,
बंटने लगी है बधाई,

देखो देखो वो बाबा,
मुस्कुराने लगा,

जिसको देखो वही अब,
गुनगुनाने लगा,

हो गए वारे न्यारे,
होय क्या बात हो गई,

मुरली वाले से अपनी,
मुलाकात हो गई।।



जय हो तुम्हारी जयजय हो,
तुम्हारी खाटू के श्याम बिहारी,

जय हो तुम्हारी जयजय हो,
तुम्हारी खाटू के श्याम बिहारी,

बाबा हारे का साथी है सहारा है तू,
सबकी बिगड़ी बनाने वाला है तू,
बरसे चांदी खुशियो की बरसात हो गई,
मुरली वाले से अपनी मुलाकात हो गई।।



बज गए ढोल नगाड़े,
होय क्या बात हो गई,

मुरली वाले से अपनी,
मुलाकात हो गई,

खाटू वाले से अपनी,
मुलाकात हो गई,

बंशी वाले से अपनी,
मुलाकात हो गई।।


आपको ये भजन कैसा लगा? हमें बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम