बांके बिहारी कृष्ण मुरारी मेरे बारी कहाँ छुपे उमा लहरी भजन लिरिक्स

0
1398
बार देखा गया
बांके बिहारी कृष्ण मुरारी मेरे बारी कहाँ छुपे उमा लहरी भजन लिरिक्स

बांके बिहारी कृष्ण मुरारी,
बांके बिहारी कृष्ण मुरारी,
मेरे बारी कहाँ छुपे,
दर्शन दीजो,
शरण लीजो,
हम बलिहारी,
कहाँ छुपे,
बाँके बिहारी कृष्ण मुरारी,
मेरे बारी कहाँ छुपे।।



आँख मिचोली,

हमें ना भाये,
जग माया के,
जाल बिछाए,
रास रचाकर,
बंसी बजाकर,
धेनु चराकर,
प्रीत जगाकर,
नटवर नागर,
निष्ठुर छलिया,
लीला न्यारी,
कहाँ छुपे,
बाँके बिहारी कृष्ण मुरारी,
मेरे बारी कहाँ छुपे।।



जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,

जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,
जय जय कृष्णा जय कृष्णा जय कृष्णा,
जय जय कृष्णा जय कृष्णा जय कृष्णा,
जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,
जय जय राधे श्री राधे श्री राधे,
जय जय कृष्णा जय कृष्णा जय कृष्णा।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम