दुष्टो का मैया तुमने संहार किया है भजन लिरिक्स

0
995
बार देखा गया
दुष्टो का मैया तुमने संहार किया है भजन लिरिक्स

दुष्टो का मैया तुमने संहार किया है,
(तर्ज :- दिल जाने जिगर तुझपे निसार )

दुष्टो का मैया तुमने संहार किया है –2
पार किया है रे भक्तोँ को पार किया है।
मैँने भी मैया तेरा ध्यान किया है –2
पार किया है रे तूने भक्तोँ को पार किया है॥
दुष्टोँ का …

मैँ तो हूँ माँ दु:खोँ का मारा,
दे दो मुझे चरणोँ का सहारा,
शेर पे आजा, दर्शन दिखाजा –2
कब से माँ तेरा इन्तजार किया है॥१॥
पार किया है रे…

पूजा न जानूं मैँ भक्ति न जानूं,
नादां हूँ माँ तेरी शक्ति न जानूं,
भक्त है तेरा वो किस्मत वाला –2
जिसने भी तेरा दीदार किया है॥२॥
पार किया है रे …

भक्तोँ की भक्ति अम्बे तुझको भाये,
‘खेदड़’ भी तेरा नित ध्यान लगाये,
राह दिखादे, बिगड़ी बनादे –2
हमको माँजी क्योँ बिसार दिया है॥३॥
पार किया है रे …

दुष्टो का मैया तुमने संहार किया है –2
पार किया है रे भक्तोँ को पार किया है।
मैँने भी मैया तेरा ध्यान किया है –2
पार किया है रे तूने भक्तोँ को पार किया है॥
दुष्टोँ का … by Pkhedar

आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम