एक बार चली आओ सरकार चली आओ भजन लिरिक्स

0
2808
बार देखा गया
एक बार चली आओ सरकार चली आओ भजन लिरिक्स

एक बार चली आओ,
सरकार चली आओ,
शेरोवाली चली आओ,
जोता वाली चली आओ,
इक बार चली आओ,
सरकार चली आओ।।



मेरे दिल के जो छाले है,

मैं कैसे दिखाऊ माँ,
मेरी सुनता नहीं कोई,
मैं कैसे सुनाऊ माँ,
मुझे अपना बना जाओ,
इक बार चली आओ,
शेरोवाली चली आओ,
जोता वाली चली आओ।।



मुझे सबने रुलाया है,

माँ तू ना रुलाना मुझे,
मुझे सबने सताया है,
माँ तू ना सताना मुझे,
मुझे गले से लगा जाओ,
इक बार चली आओ,
शेरोवाली चली आओ,
जोता वाली चली आओ।।



मझधार में है कश्ती,

तू पार लगा दे माँ,
दुनिया मुझ पर हँसती,
तू पार लगा दे माँ,
मुझे पार लगा जाओ,
इक बार चली आओ,
शेरोवाली चली आओ,
जोता वाली चली आओ।।



एक बार चली आओ,

सरकार चली आओ,
शेरोवाली चली आओ,
जोता वाली चली आओ,
इक बार चली आओ,
सरकार चली आओ।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम