जसोल में धाम बण्यो है माजीसा भजन लिरिक्स

0
891
बार देखा गया
जसोल में धाम बण्यो है माजीसा भजन लिरिक्स

जसोल में धाम बण्यो है,
माजीसा रो नाम कहयो है,
माजीसा जय हो थारी,
चालो चालो जसोल रे धाम,
बुलावे माँ भटियाणी।।



जय जयकार लगाता, चालो ओ ओ,

माजीसा रा दर्शन पाओ,
ओ अगर चंदन रो देवरो,
थारो ओ अगर चंदन रो देवरो,
थारी शोभा बणी,
चालो चालो जसोल रे धाम,
बुलावे माँ भटियाणी।।



नवरात्रा में मेलो भरीजै ओ ओ,

ढोल नगारा द्वारे बाजे,
थारे द्वारे बाजे,
थारी होवे जय जयकार माँ,
थारी होवे जय जयकार माँ,
थारी महिमा बडी,
चालो चालो जसोल रे धाम,
बुलावे माँ भटियाणी।।



पिंकी थारी महिमा गावे ओ ओ,

राहुल चरना शीश नवावे,
हाँ शीश नवावे,
ओ मोत्या वाली मात जी,
म्हारी मोत्यां वाली मात जी,
करो सबकी भली,
चालो चालो जसोल रे धाम,
बुलावे माँ भटियाणी।।



जसोल में धाम बण्यो है,

माजीसा रो नाम कहयो है,
माजीसा जय हो थारी,
चालो चालो जसोल रे धाम,
बुलावे माँ भटियाणी।।



स्वर & लिरिक्स – पिंकी गहलोत।

Cont. – 9772021065


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम