काहे तेरी अखियों में पानी हिंदी भजन लिरिक्स

0
8210
बार देखा गया
काहे तेरी अखियों में पानी

काहे तेरी अखियों में पानी २
कृष्ण दीवानी मीरा कृष्ण दीवानी मीरा। २

ओ मीरा कृष्ण दीवानी मीरा श्याम दीवानी।

हँस के तू पिले विष का प्याला २
तोहे क्या डर तोरे संग गोपाला २
तेरे तन की ना होगी हानि, कृष्ण दीवानी मीरा।

सबके लिए मैं मुरली बजाऊ २
नाच नाच सारे जग को नचाऊ २
सिर्फ राधा नहीं मेरी रानी, कृष्ण दीवानी मीरा

प्रीत में भक्ति जब मिल जाए २
जग तो क्या ये सृष्टि हिल जाए २
झुक जाए अभिमानी, कृष्ण दीवानी मीरा।

काहे तेरी अखियो में पानी २
कृष्ण दीवानी मीरा कृष्ण दीवानी मीरा। २

 

आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम