कंचन वाली काया सैलानी मैं तो पावना भजन लिरिक्स

0
2577
बार देखा गया
कंचन वाली काया सैलानी मैं तो पावना भजन लिरिक्स

कंचन वाली काया,
सैलानी मैं तो पावना,
एक दिन जावाला,
पाछा कोणी आवाला।।



बोलो बोलो अम्रत वाणी,

इन मुखडासु,
फूला वाली परमलिसोड़ा,
अमर पद पावाला,
कँचन वाली काया,

सैलानी मैं तो पावणा,
एक दिन जावाला,
फेर नहीं आवाला।।



लेनो वेतो ले लो रे,

लावो इन हाथा सु,
करलो भलाई वालो काम,
जगत जस पावाला,
कँचन वाली काया,
सैलानी मैं तो पावणा,
एक दिन जावाला,
फेर नहीं आवाला।।



मिलनो वेतो मिल लो रे,

जगत का मिनखा सु,
मेलो ओ बिछड़ियो जाए,
पछे पछतावा ला,
कँचन वाली काया,
सैलानी मैं तो पावणा,
एक दिन जावाला,
फेर नहीं आवाला।।



गाना वेतो गा लो रे,

गुरूजी वाला गीत ला,
भैरव भजमन रा,
अमर हो जावोला,
कँचन वाली काया,
सैलानी मैं तो पावणा,
एक दिन जावाला,
फेर नहीं आवाला।।



कंचन वाली काया,

सैलानी मैं तो पावना,
एक दिन जावाला,
पाछा कोणी आवाला।।

“श्रवण सिंह राजपुरोहित द्वारा प्रेषित”
सम्पर्क : +91 9096558244


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम