कान्हा वो मुरली वाला भक्तों पे जादू डाला भजन लिरिक्स

0
2198
बार देखा गया

कान्हा वो मुरली वाला,
भक्तों पे जादू डाला,
तर्ज-कजरा मोहब्बत वाला

कान्हा वो मुरली वाला,
भक्तों पे जादू डाला,
मुरली बजाये बेमिसाल,
नटखट है मइया तेरा लाल।।

दुनियां माया के पीछे,
माया है तेरे पीछे,
दुनियां माया के पीछे,
माया है तेरे पीछे,
सबको नचाये बारबार,
नटखट है मइया तेरा लाल,
हो दरश दिखादे नन्दलाल,
नटखट है मइया तेरा लाल,
मुरली बजाये बेमिसाल,
नटखट है मइया तेरा लाल।।

आये हो कहाँ से कान्हा,
मुरली की तान लेकर,
यमुना से पनघट की ये,
सारी बहार लेकर,
कुण्डल ये मणियोंवाला,
गलेमें बैजन्त्रीमाला,
मुरली बजाये बेमिसाल,
नटखट है मइया तेरा लाल।।

पूजा न पाठ जानूँ,
जपतप ना ध्यान जानूँ,
मेरे कन्हइया मैं तो,
तेरा ही नाम जनूँ
भक्ति दिलादे मुझको,
मुक्ति दिलादे मुझको
पड़ी रहूँ मै तेरे व्दार,
नटखट है मइया तेरा लाल
मुरली बजाये बेमिसाल,
नटखट है मइया तेरा लाल।।

रुपया न पैसा मांगू,
ना चांदी सोना मांगू,
मेरे कन्हइया मै तो,
चरनों की धूल माँगू,
पायल बनाले मुझको,
पाँव में बसाले मुझको,
बजती रहूँ मै दिनरात,
नटखट है मइया तेरा लाल
मुरली बजाये बेमिसाल,
नटखट है मइया तेरा लाल।।

Bhajan By
Rohit Rathore (Jhalarapatan Rajasthan)

आपको ये भजन कैसा लगा? हमें बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम