लाखों दानी देखे लेकिन तेरी अलग कहानी शिव भजन

0
1756
बार देखा गया
लाखों दानी देखे लेकिन तेरी अलग कहानी शिव भजन

लाखों दानी देखे लेकिन,
लाखों दानी देखे लेकिन,
तेरी अलग कहानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
बाबा भोले दानी जय हो भोले दानी।।



तुमने कोई नहीं की शंका,

हस के रावण को दे दी लंका,
चुरा ले गया सपने रावण,
चुरा ले गया सपने रावण,
बैठी रही भवानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
बाबा भोले दानी जय हो भोले दानी।।



तेरा पार ना कोई पाया,

तूने अद्भुत रूप बनाया,
है भुजंग भूषण आभूषण,
है भुजंग भूषण आभूषण,
सर गंगा महारानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
बाबा भोले दानी जय हो भोले दानी।।



जिनको त्रिभुवन ने ठुकराया,

उनको तुमने है अपनाया,
अपना लो हमको भी बेधड़क,
अपना लो हमको भी बेधड़क,
है ‘लख्खा’ अज्ञानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
बाबा भोले दानी जय हो भोले दानी।।



लाखों दानी देखे लेकिन,

लाखो दानी देखे लेकिन,
तेरी अलग कहानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
भोले दानी बाबा भोले दानी,
बाबा भोले दानी जय हो भोले दानी।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम