माँ शारदे तुम्हे आना होगा विणा मधुर बजाना होगा भजन लिरिक्स

0
8168
बार देखा गया
माँ शारदे तुम्हे आना होगा विणा मधुर बजाना होगा भजन लिरिक्स

माँ शारदे तुम्हे आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा,
मेरे मन मंदिर में मैया आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा,
माँ शारदे तुम्हे आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा।।

तर्ज – झिलमिल सितारों का।



सा रे गा मा प ध नी सा,

मैया मैं तो जानूँ ना,
सात स्वरों को मैया,
मैं तो पहचानू ना,
कीर्तन में मैया तुम्हे आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा,
माँ शारदे तुम्हें आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा।।



तू ही अम्बे तू ही दुर्गा,

तू ही महाकाली है,
भक्तो की अम्बे माँ,
करती रखवाली है,
ज्योति में तुमको समाना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा,
माँ शारदे तुम्हें आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा।।



तेरे बिन मैया मेरी,

साधना अधूरी है,
सबसे पहले मैया तेरी,
वंदना जरुरी है,
ताल से ताल मिलाना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा,
माँ शारदे तुम्हें आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा।।



माँ शारदे तुम्हे आना होगा,

विणा मधुर बजाना होगा,
मेरे मन मंदिर में मैया आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा,
माँ शारदे तुम्हे आना होगा,
विणा मधुर बजाना होगा।।

– ये भजन और ये बालिका,
दोनों बहुत प्यारे है। 🙂


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम