मैं तो दीवाना भोले का दीवाना लख्खा जी भजन लिरिक्स

0
714
बार देखा गया
मैं तो दीवाना भोले का दीवाना लख्खा जी भजन लिरिक्स

मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,
फिरता था एक पागल सड़को पे मारा मारा,
फिरता था एक पागल सड़को पे मारा मारा,

रहता था अलग सबसे दुनिया से कर किनारा,
रहता था अलग सबसे दुनिया से कर किनारा,

एक गोल काला पत्थर रखता था संग हरदम,
एक गोल काला पत्थर रखता था संग हरदम,

सर पे उठा के गाता होकर मगन वो बम बम,
सर पे उठा के गाता होकर मगन वो बम बम,

पूछा किसी ने उससे क्या नाम है तुम्हारा,
पूछा किसी ने उससे क्या नाम है तुम्हारा,

रहते हो किस जगह पे क्या काम है तुम्हारा,
रहते हो किस जगह पे क्या काम है तुम्हारा,

कहने लगा वो हस के क्या जानते नहीं हो,
कहने लगा वो हस के क्या जानते नहीं हो,

भोले का हूँ दीवाना पहचानते नहीं हो,
भोले का हूँ दीवाना पहचानते नहीं हो,

दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना,
दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना,
दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना, ना ना ना

मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,
दीवाना मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,

दीवाना मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,
दीवाना मैं तो दीवाना भोले का दीवाना।।

जिसका ब्रम्हा भी दीवाना,
जिसका ब्रम्हा भी दीवाना,

जिसका विष्णु भी दीवाना,
जिसका विष्णु भी दीवाना,

जिसका नारद भी दीवाना,
जिसका नारद भी दीवाना,

जिसका शारद भी दीवाना,
जिसका शारद भी दीवाना,

जिसका दीवाना राम है,
जिसका दीवाना राम है,

जिसका दीवाना श्याम है,
जिसका दीवाना श्याम है,

जिसका ब्रम्हा भी दीवाना,
जिसका नारद भी दीवाना,
जिसका शारद भी दीवाना,
जिसका दीवाना राम है,
जिसका दीवाना श्याम है,

भोले का मैं दीवाना दर पे है उनके जाना,
भोले का मैं दीवाना दर पे है उनके जाना,

चौखट पे जाके जिनकी झुकता है ये जमाना,
चौखट पे जाके जिनकी झुकता है ये जमाना,

अरे दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना,
दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना, ना ना ना

दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना,
दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना, ना ना ना

मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,
दीवाना मैं तो दीवाना भोले का दीवाना।।

जिनको कहते है शिव दानी,
जिनका भोले जी नाम है,
जिनका भोले जी नाम है,
जिनका भोले जी नाम है,

जिनके हाथों में सारे जगत का इंतजाम,
जिनके हाथों में सारे जगत का इंतजाम,
जगत का इंतजाम,
जगत का इंतजाम,

देता है दान अमृत पीता है विष का प्याला,
देता है दान अमृत पीता है विष का प्याला,
कहलाता है जो भोले शंकर त्रिशूल वाला,
कहलाता है जो भोले शंकर त्रिशूल वाला,
है काम जिसका बिगड़ी सदा सबकी बनाना,
है काम जिसका बिगड़ी सदा सबकी बनाना,
मैं चाहता हूँ उनके चरणों से लिपट जाना,
मैं चाहता हूँ उनके चरणों से लिपट जाना,

दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना,
दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना,
दीवाना दीवाना, दीवाना दीवाना, ना ना ना

मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,
दीवाना मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,

दीवाना मैं तो दीवाना भोले का दीवाना,
दीवाना मैं तो दीवाना भोले का दीवाना।।

कोई जवाब दें

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम