मैं दीवाना साई तेरा लखबीर सिंह लख्खा भजन लिरिक्स

0
508
बार देखा गया
मैं दीवाना साई तेरा लखबीर सिंह लख्खा भजन लिरिक्स

मैं दीवाना साई तेरा,
रखना सदा तू ध्यान मेरा,
मैं दीवाना साई तेरा।

आस बंधी है आस ना टूटे,
मुझसे तेरा द्वार ना छूटे,
रखना सदा तू मान मेरा,
मैं दीवाना साई तेरा।।

साई तेरा नाम निराला,
श्रद्धा सबुरी देने वाला,
अद्भुत तेरी महिमा देवा,
गिरते हुए को तूने संभाला,
बाबा मेरे मन मन्दिर में,
है अस्थान तेरा,
मैं दीवाना साई तेरा।।

दिन दुखी के तुम काम आये,
बिगड़े सब के काज बनाये,
एक नेक की शिक्षा देकर,
सबको सीधी राह दिखाए,
सबका है तू सबसे लिए ही,
है वरदान तेरा,
मैं दीवाना साई तेरा।।

करता रहे लख्खा तेरी भक्ति,
देना मुझको इतनी शक्ति,
मुझपे सदा हो किरपा तेरी,
पाता रहूँ मैं दुःख से मुक्ति,
तू दानी है तू ज्ञानी है,
ऊँचा ज्ञान तेरा,
मैं दीवाना साई तेरा।।

कोई जवाब दें

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम