ममता मई माँ हे जगदम्बे मेरे घर भी आ जाओ भजन लिरिक्स

0
2063
बार देखा गया
ममता मई माँ हे जगदम्बे मेरे घर भी आ जाओ भजन लिरिक्स

ममता मई माँ हे जगदम्बे,
मेरे घर भी आ जाओ,
भाग्य उदय हो जाए हमारे,
अपने दरश दिखा जाओ,
ममता मई माँ हे जगदम्बे,
मेरे घर भी आ जाओ।।



देर करो ना आज भवानी,

सफल करो माता जिंदगानी,
देर करो ना आज भवानी,
सफल करो माता जिंदगानी,
मेरे मन को निर्मल कर दो,
भक्ति भाव जगा जाओ,
ममता मई माँ हें जगदम्बे,
मेरे घर भी आ जाओ।।



तरस रहे है नैन हमारे,

बाट निहारत सांझ सकारे,
तरस रहे है नैन हमारे,
बाट निहारत सांझ सकारे,
दिप दुवारे रख मैं बैठी,
अपनी ज्योत जगा जाओ,
ममता मई माँ हें जगदम्बे,
मेरे घर भी आ जाओ।।



ये बेनाम शरण तेरी आई,

हम पर भी माँ हो करुणाई,
ये बेनाम शरण तेरी आई,
हम पर भी माँ हो करुणाई,
आँगन बिन माता लागे सुना,
अमृत रास बरसा जाओ,
ममता मई माँ हें जगदम्बे,
मेरे घर भी आ जाओ।।



ममता मई माँ हे जगदम्बे,

मेरे घर भी आ जाओ,
भाग्य उदय हो जाए हमारे,
अपने दरश दिखा जाओ,
ममता मई माँ हे जगदम्बे,
मेरे घर भी आ जाओ।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम