मैनु नचणा मोहन दे नाल आज मैनु नच लेन दे भजन लिरिक्स

1
1387
बार देखा गया
मैनु नचणा मोहन दे नाल

मैनु नचणा मोहन दे नाल
आज मैनु नच लेन दे ॥

हुण मैं किसी से नाहि डरना,
जो मन आये सो योही मैं करना,
मेरा मुरली वाला यार,
आज मैनु नच लेन दे,
नी मैं नचना मोहन दे नाल, आज मैनु नच लेन दे॥


पैरा दे विच घुँघरू बनके,
अपने श्याम दी जोगन बन के,
अखां ला लईया उसदे नाल,
आज मैनु नच लेन दे,
मैंनु नचना मोहन दे नाल आज मैनु नच लेन दे॥


वृंदावन विच जावांगी मैं भी,
प्यार मोहन दा पावगी मैं भी,
जग रुसजाये लख बार,
आज मैनु नच लेन दे,
मैनु नचना मोहन दे नाल आज मैनु नच लेन दे॥

मैनु नचणा मोहन दे नाल
आज मैनु नच लेन दे ॥

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम