नजर ना लग जाये भजन कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन

0
24637
बार देखा गया
नजर ना लग जाये भजन कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन

नजर ना लग जाये भजन,
श्लोक – ओ मोटे मोटे नैनन के तू ,
ओ मीठे मीठे बैनन के तू

साँवरी सलोनी सूरत के तू ,
ओ प्यारी प्यारी मूरत के तू। 



ओ कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन,

हाय नजर ना लग जाये,
बाँके-बिहारी कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन,
हाय नजर ना लग जाये।। 



काजल की कोरे – ओय होय होय,

मेरा जिगर मरोड़े – ओय होय होय,  
रंग रस में भोरे – ओय होय होय,
मै तो हारी रे कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन,
हाय नजर ना लग जाये।। 



आँखों का काजल – ओय होय होय,

मेरा जिगर है घायल – ओय होय होय,
तेरे प्यार में पागल – ओय होय होय,
कर डारि रे कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन,
हाय नजर ना लग जाये।। 



तेरे मुकुट की लटकन – ओय होय होय,

तेरे अधर की मुस्कन – ओय होय होय, 
गिरवह की मटकन – ओय होय होय, 
बलिहारी रे कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन,
हाय नजर ना लग जाये।। 



तेरी प्रीत है टेडी – ओय होय होय, 

तेरी रीत है टेडी – ओय होय होय, 
तेरी जीत है टेडी – ओय होय होय,
मै तो हारी रे कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन

हाय नजर ना लग जाये।। 



बाँके-बिहारी कजरारे मोटे मोटे तेरे नैन

हाय नजर ना लग जाये – ओय होए होय
ओय नजर ना लग जाये – ओय होए होय
हाय नजर ना लग जाये – ओय होए होय


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम