ओ मेरे सांवरे मिल गई छाव रे उमा लहरी खाटु श्याम भजन लिरिक्स

0
2085
बार देखा गया
ओ मेरे सांवरे मिल गई छाव रे उमा लहरी खाटु श्याम भजन लिरिक्स

ओ मेरे सांवरे,
मिल गई छाव रे,
ख्वाब देखा जो,
पूरा मेरा हो गया,
देखते ही तुझे,
मिल गया सब मुझे,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया।।

तर्ज – मेरे रश्के क़मर।



मैं परेशान था,

मेरा कोई था,
ऐसे में हाथ तूने,
जो पकड़ा मेरा,
गर्दिशे मिल गई,
मंजिले मिल गई,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया,
देखते ही तुझे,
हो गया क्या मुझे,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया।।



तुम जहाँ भी रहो,

साथ मैं भी रहूँ,
छोड़ मुझको ना,
जाना मेरे सांवरे,
भूल जो गए अगर,
फेरना ना नजर,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया,
देखते ही तुझे,
हो गया क्या मुझे,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया।।



मेरे मन मोहना,

माया का मोह ना,
लहरी जन्मो जनम,
बस तुम्हारा रहूँ,
मेरी ये प्रार्थना,
है ये आराधना,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया,
देखते ही तुझे,
हो गया क्या मुझें,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया।।



ओ मेरे सांवरे,

मिल गई छाव रे,
ख्वाब देखा मेने,
पूरा हो गया,
देखते ही तुझे,
मिल गया सब मुझे,
मैं तेरा हो गया,
तू मेरा हो गया।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम