होम Blog पेज 112
जरा इतना बता दे कान्हा कि तेरा रंग काला क्यों हिंदी लिरिक्स

जरा इतना बता दे कान्हा कि तेरा रंग काला क्यों हिंदी...

जरा इतना बता दे कान्हा, कि तेरा रंग काला क्यों। श्लोक- श्याम का काला बदन, और श्याम घटा से काला, शाम होते ही, गजब कर गया मुरली वाला।।जरा...
हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना भजन लिरिक्स

हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना भजन लिरिक्स

हरि जी मेरी लागी लगन मत तोडना,  लागी लगन मत तोडना, प्यारे लागी लगन मत तोडना।। खेती बोआई मैंने तेरे नाम की, खेती बोआई मैंने तेरे नाम...

ऐ श्याम तेरी बंसी की कसम हम तुमसे मोहोब्बत कर बैठे

ऐ श्याम तेरी बंसी की कसम हम तुमसे मोहोब्बत कर बैठे,  इस दिल के सिवा कुछ और न था, यह दिल भी तुम्हारा कर बैठे...
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए हिंदी भजन लिरिक्स

किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए हिंदी भजन लिरिक्स

किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए, श्लोक - राधा साध्यम, साधनं यस्य राधा, मंत्रो राधा मंत्र दात्री च राधा। सर्वम राधा, जीवनम यस्य राधा, राधा राधा वाचिकीम...

आओ मेरी सखियो मुझे मेहँदी लगा दो मुझे श्याम सुन्दर की...

आओ मेरी सखियो मुझे मेहँदी लगा दोश्लोक-ऐसे वर को क्या वरु, जो जनमे और मर जाये,  वरीये गिरिधर लाल को, चुड़लो अमर हो जाये।आओ मेरी...

दर्शन दो घनश्याम नाथ मोरी अँखियाँ प्यासी रे

दर्शन दो घनश्याम नाथ मोरी, अँखियाँ प्यासी रे  मन मंदिर की जोत जगा दो, घट घट वासी रे ||मंदिर मंदिर मूरत तेरी, फिर भी न...
​मीठी मीठी बाताँ करके चंद मुलाकाता करके भजन लिरिक्स

​मीठी मीठी बाताँ करके चंद मुलाकाता करके भजन लिरिक्स

​मीठी मीठी बाताँ करके, चंद मुलाकाता करके, दिलासा दे गयो री, दील मेरा कान्हा ले गयो ले गयो री॥॥तर्ज - मीठी मीठी बाता करके यमुना किनारे कान्हा धेनु...

सबसे ऊंची प्रेम सगाई हिंदी भजन लिरिक्स

सबसे ऊंची प्रेम सगाई सबसे ऊंची प्रेम सगाई।। दुर्योधन के मेवा त्याग्यो, साग विदुर घर खाई। सबसे ऊंची प्रेम सगाई।। जूठे फल शबरी के खाये, बहु विधि...

मैं नहिं माखन खायो मैया मोरी हिंदी लिरिक्स

मैं नहिं माखन खायो मैया मोरीमैया मोरी मैं नहिं माखन खायो |भोर भयो गैयन के पाछे, मधुवन मोहिं पठायो । चार पहर बंसीबट भटक्यो, साँझ...

हरी दर्शन की प्यासी अखियाँ हिंदी भजन लिरिक्स

हरी दर्शन की प्यासी अखियाँ अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी।। देखियो चाहत कमल नैन को, निसदिन रहेत उदासी, अखियाँ हरी दर्शन की प्यासी।। आये उधो फिरी गए...

इस सप्ताह के भजन