होम Blog पेज 2
श्याम जी विपदा क्यों सताती है भजन लिरिक्स

श्याम जी विपदा क्यों सताती है भजन लिरिक्स

श्याम जी विपदा क्यों सताती है, मुश्किलों में जान जाती है, श्याम जी विपदा क्यों सताती है।। तर्ज - ज़िन्दगी इम्तेहान लेती है।कोई ना जिनको वो किसको...
भीख नहीं मुझे चाहिए दो मेरा अधिकार भजन लिरिक्स

भीख नहीं मुझे चाहिए दो मेरा अधिकार भजन लिरिक्स

भीख नहीं मुझे चाहिए, दो मेरा अधिकार, मैं नालायक हूँ बेटा, मैं नालायक हूँ बेटा, पर तू तो समझदार, भीख नहीं मुझे चाहिए, दो मेरा अधिकार।। तर्ज - देना हो तो...
दर्शन को तरसते है दो नैना ये बावरे भजन लिरिक्स

दर्शन को तरसते है दो नैना ये बावरे भजन लिरिक्स

दर्शन को तरसते है, दो नैना ये बावरे, मेरे श्याम चले आओ, मेरे श्याम चले आओ, कहीं चैन नहीं तुम बिन, मुझको मेरे सांवरे, मेरी प्यास बुझा जाओ, मेरे श्याम चले...
डसी गयो काळो रे कुंवर थाने बाग़ में भजन लिरिक्स

डसी गयो काळो रे कुंवर थाने बाग़ में भजन लिरिक्स

डसी गयो काळो रे, कुंवर थाने बाग़ में, छाती भर आयी लाला, देखि थारी लाश मैं।।फूल तोडन गयो, कुँवर म्हारो बाग़ में, फुलड़ा तोडन लाग्यो, डस्यो...
रोज थोड़ा थोड़ा साईं का भजन करले साईं बाबा भजन लिरिक्स

रोज थोड़ा थोड़ा साईं का भजन करले साईं बाबा भजन लिरिक्स

रोज थोड़ा थोड़ा साईं का भजन करले, तर्ज - थोड़ा थोड़ा हरी का भजन करले।अच्छा भला कोई तो करम करले, रोज थोड़ा थोड़ा बाबा का भजन...
चप्पा चप्पा लंका जले हनुमान जी भजन लिरिक्स

चप्पा चप्पा लंका जले हनुमान जी भजन लिरिक्स

चप्पा चप्पा लंका जले, हक्के बक्के हो गए सभी, लंकापति हाथ मले, चप्पा चप्पा लंका जले।। जल गई जल गई, सोने की नगरिया। तर्ज - चप्पा चप्पा चरखा चले।गली गली...
अब तू ही बता गोपाल कुण पार लगावेगो भजन लिरिक्स

अब तू ही बता गोपाल कुण पार लगावेगो भजन लिरिक्स

अब तू ही बता गोपाल, कुण पार लगावेगो, कुण आड़े आवेगो, अब तू ही बता गोपाल, कुण पार लगावेगो।।दुनिया तेरी ऐसी है, बटका सा भरे मेरे, गर तू नहीं होवे...
यूँ ही होता रहे तेरा ये दीदार सांवरे भजन लिरिक्स

यूँ ही होता रहे तेरा ये दीदार सांवरे भजन लिरिक्स

यूँ ही होता रहे तेरा ये दीदार सांवरे, मेरी बगिया में तू है तो बहार सांवरे।।कोई तेरे जैसा कहा दिलदार सांवरे, किसी और ने किया ना...
मेरे प्यारे कन्हैया ओ बंसी बजैया भजन लिरिक्स

मेरे प्यारे कन्हैया ओ बंसी बजैया भजन लिरिक्स

मेरे प्यारे कन्हैया, ओ बंसी बजैया, फिर से बंसी बजाने तू आजा, छोटी गैया चराने आजा, छोटी गैया चराने आजा, मेरे प्यारे कन्हैया, तू बंसी बजैया।। तर्ज - मेरी प्यारी बहनिया...
आवणो पड़ेला कारज सारणों पड़ेला राजस्थानी गुरुदेव भजन

आवणो पड़ेला कारज सारणों पड़ेला राजस्थानी गुरुदेव भजन

आवणो पड़ेला कारज सारणों पड़ेला, श्लोक - गुरु गोविंद दोई खड़े, किसके लागू पाय। बलिहारी गुरु देव ने, जो गोविन्द दियो बताये।।आवणो पड़ेला कारज सारणों...

इस सप्ताह के भजन