होम Blog पेज 2
ज़िन्दगी बेकार है ये दुनिया असार है श्री राम भजन लिरिक्स

ज़िन्दगी बेकार है ये दुनिया असार है श्री राम भजन लिरिक्स

ज़िन्दगी बेकार है, ये दुनिया असार है, जिसने लिया राम नाम, उसी का बेडा पार है, उसी का बेडा पार है।। इस दुनिया में खोज के देखा, माया के सब...
जिसकी लागी रे लगन भगवान में उसका दिया रे जलेगा तूफान में

जिसकी लागी रे लगन भगवान में उसका दिया रे जलेगा तूफान...

जिसकी लागी रे लगन भगवान में, उसका दिया रे जलेगा तूफान में।। तन का दीपक मन की बाती, हरी भजन का तेल रे, काहे को तू घबराता है, ये...
मैया का जादू है सर चढ़कर बोलेगा भजन लिरिक्स

मैया का जादू है सर चढ़कर बोलेगा भजन लिरिक्स

मैया का जादू है, सर चढ़कर बोलेगा।। तर्ज – ये इश्क़ का जादू है। भगत तू ना जइयो, ना जइयो, मैया वैष्णो के द्वार, वहां पर बैठी है बैठी है, हम...
देता है वो राम का कदम कदम पर साथ भजन लिरिक्स

देता है वो राम का कदम कदम पर साथ भजन लिरिक्स

देता है वो राम का, कदम कदम पर साथ, रहे उसके सर पर हरदम, रहे उसके सर पर हरदम, श्री राम प्रभु का हाथ, देता है वो राम का, कदम...
ये श्याम का जादू है सर चढ़कर बोलेगा खाटु श्याम भजन लिरिक्स

ये श्याम का जादू है सर चढ़कर बोलेगा खाटु श्याम भजन...

ये श्याम का जादू है, सर चढ़कर बोलेगा।। तर्ज - ये इश्क़ का जादू है। भगत तू मत जइयो, मत जइयो, मत जइयो दरबार, वहां पर बैठा है बैठा है, जादूगर...
करता हूँ मै वंदना नत सिर बारम्बार नमस्कार सप्तक हिंदी लिरिक्स

करता हूँ मै वंदना नत सिर बारम्बार नमस्कार सप्तक

करता हूँ मै वंदना, नत सिर बारम्बार, तुझे देव परमात्मन, मंगल शिव शुभ काज, अंजलि पर मस्तक किए, विनय भक्ति के साथ, नमस्कार मेरा तुझे, होवे जग के नाथ।। ॐ नमः शिवाय,ॐ...
आज मेरे श्याम की शादी है श्री कृष्ण रुक्मणि विवाह भजन

आज मेरे श्याम की शादी है श्री कृष्ण रुक्मणि विवाह भजन

आज मेरे श्याम की शादी है, श्याम की शादी है, मेरे घनश्याम की शादी है, आज मेरे श्याम की शादी है।। तर्ज - आज मेरे यार की शादी...
यहाँ देवता महान कहते है सौरभ मधुकर भजन लिरिक्स

यहाँ देवता महान कहते है सौरभ मधुकर भजन लिरिक्स

यहाँ देवता महान कहते है, वहाँ राधे का गुलाम कहते हैं।। तर्ज - मनिहारी का भेष बनाया। यहां बैठा सिंहासन लगा के, वहां राधे के पीछे पीछे भागे, यहां...
श्यामा जू कृपा करती रहो चित्र विचित्र जी भजन लिरिक्स

श्यामा जू कृपा करती रहो चित्र विचित्र जी भजन लिरिक्स

श्यामा जू कृपा करती रहो, मैं हूँ तुम्हारी शरण, करो मेरी बाधा हरण, सदा मुझपे करुणा करती रहो, श्यामा जू कृपा करती रहो।। तर्ज - सोचेंगे तुम्हे प्यार करे...
जनम जनम की सेवा देना श्री चरणों में तू रख लेना भजन लिरिक्स

जनम जनम की सेवा देना श्री चरणों में तू रख लेना...

जनम जनम की सेवा देना, श्री चरणों में तू रख लेना, मेरे बाबा मेरे बाबा, मेरे बाबा साथ में रहना।। तर्ज - और नहीं कुछ तुमसे कहना। मेरी दुआ...

इस सप्ताह के भजन