होम Blog पेज 3
क्या लेकर तू आया जग में भजन लिरिक्स

क्या लेकर तू आया जग में भजन लिरिक्स

क्या लेकर तू आया जग में, क्या लेकर तू जाएगा।। श्लोक - आए है सो जाएंगे, राजा रंक फ़क़ीर, कोई सिंहासन चढ़ चला, कोई बंधे जंजीर। क्या लेकर तू आया...
कुण तो सुणेला कुणने सुनाऊं म्हारे मन की बात भजन

कुण तो सुणेला कुणने सुनाऊं म्हारे मन की बात भजन

कुण तो सुणेला कुणने सुनाऊं, म्हारे मन की बात, थां बिन दुखड़ा कोण हरे, खाटू वाला श्याम, श्याम थारा दास पुकारे, दास ने मत बिसरा...
तेरा नाम लिया तुझे याद किया खाटु श्याम भजन लिरिक्स

तेरा नाम लिया तुझे याद किया खाटु श्याम भजन लिरिक्स

तेरा नाम लिया तुझे याद किया खाटु श्याम भजन, खाटु आकर चले गए, जाकर मुझको भूल गए, बोलो इतने दिन क्या किया, क्या किया, क्या किया, क्या किया, तेरा नाम...
कीर्तन में धूम मचा जइयो मेरे श्याम धणी साँवरिया लिरिक्स

कीर्तन में धूम मचा जइयो मेरे श्याम धणी साँवरिया लिरिक्स

कीर्तन में धूम मचा जइयो, मेरे श्याम धणी साँवरिया।। तर्ज - बुलाए गई राधा प्यारी। मेरे श्याम धणी साँवरिया, मेरे खाटु के साँवरिया, कीर्तन में धूम...
हर ग्यारस की ग्यारस तुमसे मुलाकात हो जाए भजन लिरिक्स

हर ग्यारस की ग्यारस तुमसे मुलाकात हो जाए भजन लिरिक्स

हर ग्यारस की ग्यारस तुमसे, मुलाकात हो जाए, तुम सामने बैठे हो, थोड़ी बात हो जाए।। तेरा और मेरा साँवरे, ये कैसा नाता है, हर ग्यारस की ग्यारस, खाटु ले आता...
दरजी सिम दे निसान मन्ने खाटू जानो से भजन लिरिक्स

दरजी सिम दे निसान मन्ने खाटू जानो से भजन लिरिक्स

दरजी सिम दे निसान, मन्ने खाटू जानो से, खाटू वालो श्याम धणी से, हेत पुराणों से, दरजी सिम दे निसान, मन्ने खाटू जानो से।। कितनो...
अरज सुनो मेरे साँवरिया भजन लिरिक्स

अरज सुनो मेरे साँवरिया भजन लिरिक्स

अरज सुनो मेरे साँवरिया, हमने सहारा तेरा लिया, हमने सहारा तेरा लिया, हमने सहारा तेरा लिया, अरज सुनो मेरे साँवरिया, हमने सहारा तेरा लिया।। तर्ज - घर आया मेरा परदेसी। क्या...
मैं मांगता तुमसे मेरे बाबा भजन लिरिक्स

मैं मांगता तुमसे मेरे बाबा भजन लिरिक्स

मैं मांगता तुमसे मेरे बाबा, वो चीज मुझको जरुर देना, मिले ज़माने की सारी खुशियां, मगर ना मुझको गुरुर देना। ना देना चाहे कुबेर का धन, मगर सलीका सहूर...
म्हारी चिंता हरो म्हारा नाथ थाने भगत बुलावे है

म्हारी चिंता हरो म्हारा नाथ थाने भगत बुलावे है

म्हारी चिंता हरो म्हारा नाथ, थाने भगत बुलावे है।। तर्ज - आ लौट के आजा मेरे मीत। श्लोक - सुमिरण दिप जलाई के, धरु हृदय में ध्यान, शरण पड़े...
म्हाने पिहरियो सो लागे खाटू धाम भजन लिरिक्स

म्हाने पिहरियो सो लागे खाटू धाम भजन लिरिक्स

म्हाने पिहरियो सो लागे खाटू धाम, रेहवा द्यो म्हाने पिहरिये। बाबुल बुलावे म्हाने गाँव रे, सखी बाबुल बुलावे म्हाने गाँव। म्हाने पिहरियो सो लागे खाटू धाम, रेहवा द्यो म्हाने...

नए जोड़े गए भजन