होम भजन पेज 4
आते है मेरे बाबा दुनिया में रूप धरके भजन लिरिक्स

आते है मेरे बाबा दुनिया में रूप धरके भजन लिरिक्स

आते है मेरे बाबा, दुनिया में रूप धरके, कभी राम बन के आए, कभी आए श्याम बनके, आते हैं मेरे बाबा, दुनिया मे रूप धरके।। तर्ज - आए हो मेरी जन्दगी में। भक्तो...
हरि मिलते नही है बिन प्रीत रे भजन लिरिक्स

हरि मिलते नही है बिन प्रीत रे भजन लिरिक्स

मेरे मनवा मन मीत रे...,,, हरि मिलते नही है बिन प्रीत रे, बिन प्रीत रे, ओ मेरे मनवा।। तर्ज - आजा तुझको पुकार मेरे गीत। प्रीत लगाई थी, शबरी प्रभू...
अपने रंग मे रंग लो प्रीतम करके बहाना होली का

अपने रंग मे रंग लो प्रीतम करके बहाना होली का

अपने रंग मे रंग लो प्रीतम, करके बहाना होली का, कैसे कहूँ मै अपने मुख से, विषय नही यह बोली का।। तर्ज - नगरी नगरी द्वारे द्वारे। (होली विशेष) नीला...
प्रभू जग में अवतार जब लीजियेगा भजन लिरिक्स

प्रभू जग में अवतार जब लीजियेगा भजन लिरिक्स

प्रभू जग में अवतार जब लीजियेगा, मुझे अपना सेवक बना लीजियेगा। तर्ज - अजी रूठ कर अब कहाँ। सदा करना चाहूँ में सेवा तुम्हारी, हमेशा रहूँ मै ऱजा...
कभी वो हार ना सकता जिसे तेरा सहारा है भजन लिरिक्स

कभी वो हार ना सकता जिसे तेरा सहारा है भजन लिरिक्स

कभी वो हार ना सकता, जिसे तेरा सहारा है, वो नैया डूब ना सकती, जिसे तूने संभाला है, कभी वो हार ना सकता, जिसे तेरा सहारा है।। तर्ज – मुझे...
तू क्यूँ घबराता है तेरा श्याम से नाता है भजन लिरिक्स

तू क्यूँ घबराता है तेरा श्याम से नाता है भजन लिरिक्स

तू क्यूँ घबराता है, तेरा श्याम से नाता है, जब मालिक है सिर पे, क्यों जी को जलता है, तू क्यूँ घबराता हैं, तेरा श्याम से नाता है।। तू देख...
आ गया खाटू वाला श्याम भजन लिरिक्स

आ गया खाटू वाला श्याम भजन लिरिक्स

आ गया खाटू वाला, वो आ गया खाटू वाला, मोहन मुरली वाला, आ गया खाटू वाला।। तन केसरिया बागो सोहे, तन केसरिया बागो सोहे, गल फूलों की माला, आ गया खाटू...
सांवरिया तुझसा नहीं इस अम्बर के नीचे भजन लिरिक्स

सांवरिया तुझसा नहीं इस अम्बर के नीचे भजन लिरिक्स

सांवरिया तुझसा नहीं, इस अम्बर के नीचे, इसलिए तो डोल रही है, दुनिया पीछे पीछे, सांवरिया तुझसा नहीं, इस अम्बर के नीचे।। तर्ज - दीवाना मुझसा नहीं। पाके तुझे लगता मुझे, कोई...
तेरी बांकी अदा पे बलिहारी जाऊं भजन लिरिक्स

तेरी बांकी अदा पे बलिहारी जाऊं भजन लिरिक्स

तेरी बांकी अदा पे बलिहारी जाऊं, तेरे मोटे मोटे नैनो पे मैं वारी जाऊं, तेरे मोटे मोटे नैनो पे मैं वारी जाऊं।। मोर मुकुट मकराकृत कुंडल, गालों पे...
हिंडो घला दयो ओ सत्संग माई ने राजस्थानी भजन

हिंडो घला दयो ओ सत्संग माई ने राजस्थानी भजन

हिंडो घला दयो ओ सत्संग माई ने, दोहा - सतगुरु के दरबार में, नर जाइए बारंबार, भूली वस्तु बताएं दी, मेरे सतगुरु दातार। हिंडो घला दयो...

नए जोड़े गए भजन