सबकी भरती है माँ यहाँ पर झोलियाँ भजन लिरिक्स

0
915
बार देखा गया
सबकी भरती है माँ यहाँ पर झोलियाँ भजन लिरिक्स

सबकी भरती है माँ,
यहाँ पर झोलियाँ।

चढ़के पहाड़ी,
भक्तो की प्यारी,
रोज आती है टोलियां,

सबकी भरती है माँ,
यहाँ पर झोलियाँ,
सबकी भरती है,
यहाँ पर झोलियाँ,
सबकी भरती है माँ,
यहाँ पर झोलियाँ।।



तू है खुशियों के,

वर देने वाली,
माँ वर देने वाली,
दयालु महाकाली,
तू सारे ही जग से निराली,
बड़े दिल वाली माँ,
सुख की दाती तू, न्यारी,
माँ वरदाती तू, प्यारी,
तेरी माया तू ही, जाने,
तेरी शक्ति को जग, माने,
पंछी बोले द्वार तेरे,
भक्ति की बोलिया,
सबकी भरती हैं माँ,
यहाँ पर झोलियाँ।।



तू तो माटी को,

सोना है करती,
सभी दुःख हरती,
तू भंडार भरती,
तू तारे तो है नैया,
माँ तरती,
करुणा जब करती,
ममता मूरत तू, मैया,
सच्ची मूरत तू, मैया,
ज्योति रूपा तू, मैया,
पवन स्वरूपा तू, मैया,
तेरे रंगो में खेलेंगे,
हम सब होलियाँ,
सबकी भरती हैं माँ,
यहाँ पर झोलियाँ।।



चढ़के पहाड़ी,

भक्तो की प्यारी,
रोज आती है टोलियां,

सबकी भरती हैं माँ,
यहाँ पर झोलियाँ,
सबकी भरती है,
यहाँ पर झोलियाँ,
सबकी भरती है माँ,
यहाँ पर झोलियाँ।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम