सांसो की माला पे सिमरु मैं शिव का नाम भजन लिरिक्स

0
2956
बार देखा गया
सांसो की माला पे सिमरु मैं शिव का नाम भजन लिरिक्स

सांसो की माला पे,
सिमरु मैं शिव का नाम,
सांसों की माला पे,
सिमरु मैं शिव का नाम,
अपने मन में हरदम रहता है,
शिव तेरा नाम,
सांसों की माला पे,
सिमरु मैं शिव का नाम।।

तर्ज – सांसो की माला पे।



शिव शंकर तुम,

हो हितकारी,
ओ भोले त्रिपुरारी,
तू ही रखवाला मेरा शिवजी,
तू ही है राम,
सांसों की माला पे,
सांसों की माला पे,
सिमरु मैं शिव तेरा नाम।।



शिव तू ही है मेरा,

भाग्य विधाता,
तू ही है भगवान,
तूने सबकी बिगड़ी बनाई,
तू ही है सर्व नाम,
सांसों की माला पे,
सांसों की माला पे,
सिमरु मैं शिव तेरा नाम।।



तेरे दर पे मैं, कैसे आऊँ,

कैसे तेरे दर्शन पाऊँ,
‘पूनम’ बोले शिवजी,
तेरे चरणों में सुखधाम,
सांसों की माला पे,
सांसों की माला पे,
सिमरु मैं शिव तेरा नाम।।



सांसो की माला पे,

सिमरु मैं शिव का नाम,
सांसों की माला पे,
सिमरु मैं शिव का नाम,
अपने मन में हरदम रहता है,
शिव तेरा नाम,
सांसों की माला पे,
सिमरु मैं शिव का नाम।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम