तारा है सारा जमाना श्याम हम को भी तारो भजन लिरिक्स

0
774
बार देखा गया

तारा है सारा जमाना श्याम हम को भी तारो

हम को भी तारो श्याम,  हम को भी तारो॥


हम ने सुना है श्याम मीरा को तारा,

वीणा का कर के बहाना, श्याम हम भी तारो।


हमने सुना है श्याम द्रोपदी को तारा,

चीर का कर के बहाना, श्याम हम को भी तारो।


हमने सुना है श्याम अर्जुन को तारा,

गीता का कर के बहाना, श्याम हम को भी तारो।


हमने सुना है श्याम प्रहलाद को तारा,

खम्बे का कर के बहाना, श्याम हम को भी तारो।


हमने सुना है श्याम केवट को तारा,

नौका का कर के बहाना, श्याम हम को भी तारो।

आपको ये भजन कैसा लगा? हमें बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम