तेरे बगैर साँवरिया जीया नहीं जाये भजन लिरिक्स

1
9210
बार देखा गया
तेरे बगैर साँवरिया जीया नहीं जाये भजन लिरिक्स

तेरे बगैर साँवरिया,
जीया नहीं जाये,
तुम आके बाह पकड़लो,
तो कोई बात बने।।


ना जाने कौन सी,
बाँकी अदा तुम्हारी है,
हजारो लाखों मीटें हैं,
ये ऐसी प्यारी है,
कभी हमे भी मिटाओं,
तो कोई बात बनें।

तेरे बगैर साँवरिया,
जीया नहीं जाये,
तुम आके बाह पकड़लो,
तो कोई बात बने।।


जहाँ श्री राधा जू सँग में,
रमण करो प्यारे,
वो जमना जी का किनारा,
वो कुञ्ज है प्यारे,
वही पे हम को बसा लो,
तो कोई बात बनें।

तेरे बगैर सांवरिया,
जीया नहीं जाये,
तुम आके बाह पकड़लो,
तो कोई बात बने।।


ये आठों याम की सेवा,
करुँ तिहारी में,
कहे गोविन्द में गाउँ,
तुम्हे रिझाने को,
तुम भी साथ में गाओं,
तो कोई बात बनें।

तेरे बगैर साँवरिया,
जीया नहीं जाये,
तुम आके बाह पकड़लो,
तो कोई बात बने।।


1 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? हमें बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम