तेरी बाँकी अदा ने ओ साँवरे हमें तेरा दीवाना बना दिया भजन लिरिक्स

0
413
बार देखा गया

तेरी बाँकी अदा ने ओ साँवरे,

हमें तेरा दीवाना बना दिया।

तर्ज-ये जो हल्का हल्का सुरूर है

 

तेरी बाँकी अदा ने ओ साँवरे,

हमें तेरा दीवाना बना दिया।

तेरा टेढ़ा मुकुट तेरी टेढ़ी छटा,

तेरा बाँका मुकुट तेरी बाँकी छटा,

हमें तेरा दीवाना बना दिया॥

तूने हमें भी आशिक़ बना दिया ॥

तेरा प्यार है मेरी ज़िन्दगी,

मेरा काम है तेरी बन्दगी,

जो तेरी ख़ुशी वो मेरी ख़ुशी।

तेरी इक नज़र का सवाल है,

हमें होश है न ख़याल है,

तूने हमें दीवाना बना दिया॥

तेरी बांकी अदा ने।।

मेरे दिल में तू ही तू बसा,

मुझे छाया तेरा ही नशा,

मैं जिस्म हूँ मेरी जान तू।

तेरा जादू जब से सवार है,

मुझे चैन है ना करार है,

तूने हमे भी कायल बना दिया॥

तेरी बांकी अदा ने।।

मेरी जिंदगी का नाज़ तू ,

मेरी हर ख़ुशी का राज तू ,

तेरी हर अदा सबसे जुदा,

ये जो हल्का हल्का सुरूर है ,

ये तेरी नज़र का कसूर है ,

तूने हमें भी आशिक़ बना दिया ॥

तेरी बाँकी अदा ने।।

कोई जवाब दें

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम