तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा भजन लिरिक्स

0
437
बार देखा गया
तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा भजन लिरिक्स

तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा,
तुम ध्यान मेरा लगाओ मै हाजिर हो जाउंगा,
तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा।।

क्या दिल मै तुम्हारे है सब जानता हूं मै,
क्या कर्म है तुमहारे पहचानता हुं मै,
क्या दिल मै तुम्हारे है सब जानता हूं मै,
क्या कर्म है तुमहारे पहचानता हुं मै,
तु मेरे वचन से चलेगा,
तु मेरे वचन से चलेगा तक़दीर बना दुंगा,
तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा।।

तेरी डुबती नैया का माझी बन जाउंगा,
तु छोड़ दे चिन्ता आंधी को रोक लुंगा,
तेरी डुबती नैया का माझी बन जाउंगा,
तु छोड़ दे चिन्ता आंधी को रोक लुंगा,
तु रखदे मुछ पे भरोसा,
तु रखदे मुछ पे भरोसा नैया पार करा दुंगा,
तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा।।

तु आगे चलता जा तेरे पीछे मै रहुंगा
तु थक गया राहों में मै तुझको उठा के चँलूगा,
तु आगे चलता जा तेरे पीछे मै रहुंगा
तु थक गया राहों में मै तुझको उठा के चँलूगा,
हर वक़्त हर घडी,
हर वक़्त हर घडी हमसाया बनके रहुंगा
तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा।।

तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा
तुम ध्यान मेरा लगाओ मै हाजिर हो जाउंगा
तुम दो कदम बढो मै दस कदम बढुंगा।।

कोई जवाब दें

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम