ज़िन्दगी बेकार है ये दुनिया असार है श्री राम भजन लिरिक्स

0
646
बार देखा गया
ज़िन्दगी बेकार है ये दुनिया असार है श्री राम भजन लिरिक्स

ज़िन्दगी बेकार है,
ये दुनिया असार है,
जिसने लिया राम नाम,
उसी का बेडा पार है,
उसी का बेडा पार है।।



इस दुनिया में खोज के देखा,

माया के सब बन्दे हो,
माया के सब बन्दे हो,
स्वारथ के सब बन्दे देखे,
तबियत के सब गंदे हो,
अपनी सगी ना नार है,
ना पुत्र रिश्तेदार है,
जिसने लिया राम नाम,
उसी का बेडा पार है।

जिंदगी बेकार है,
ये दुनिया असार है,
जिसने लिया राम नाम,
उसी का बेडा पार है,
उसी का बेडा पार है।।



भोग विलास ये खाना पीना,

पशुओ में भी होता है,
पशुओ में भी होता है,
ज्ञान अधिक है पास में तेरे,
पाप बिज क्यूँ बोता है,
पाप बिज क्यूँ बोता है,
चाहे जो उद्धार है,
सच्चा तेरा यार है,
जिसने लिया राम नाम,
उसी का बेडा पार है।

जिंदगी बेकार है,
ये दुनिया असार है,
जिसने लिया राम नाम,
उसी का बेडा पार है,
उसी का बेडा पार है।।



झूठ कपट से माया जोड़ी,

महल बनाया रहने को,
महल बनाया रहने को,
धन दोलत भी खूब कमाया,
अपना अपना कहने को,
अपना अपना कहने को,
जाता मुठ्ठी झार है,
ना कोई ठेकेदार है,
जिसने लिया राम नाम,
उसी का बेडा पार है।

ज़िन्दगी बेकार है,
ये दुनिया असार है,
जिसने लिया राम नाम,
उसी का बेडा पार है,
उसी का बेडा पार है।।

स्वर – श्री विजय प्रकाश वैष्णव


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम