आज की रात तेरे नाम का गुणगान करे हमसर हयात भजन लिरिक्स

0
644
बार देखा गया
आज की रात तेरे नाम का गुणगान करे हमसर हयात भजन लिरिक्स

आज की रात तेरे नाम का गुणगान करे,
और कुछ आता नहीं,
आओ यही काम करे,
आज की रात तेरे,
नाम का गुणगान करे।।

तेरा नाम तेरा नाम आये मेरे काम,
साई राम साई राम बोलो बोलो साई राम।

आओ नैनन की किवड़िया से,
मन के आँगन में,
आये जो साई तो,
कुछ देर तो आराम करे,
और कुछ आता नहीं,
आओ यही काम करे,
आज की रात तेरे,
नाम का गुणगान करे।।

तेरा नाम तेरा नाम आये मेरे काम,
साई राम साई राम बोलो बोलो साई राम।

वैष्णो देवी कभी जाए,
कभी काशी में,
सुबह मथुरा में रहे,
शिरडी में हम शाम करे,
और कुछ आता नहीं,
आओ यही काम करे,
आज की रात तेरे,
नाम का गुणगान करे।।

तेरा नाम तेरा नाम आये मेरे काम,
साई राम साई राम बोलो बोलो साई राम।

अपने बाबा पे तन को,
मन को और धन को वारे,
जो भी हम सेवा करे
सेवा वो निष्काम करे,
और कुछ आता नहीं,
आओ यही काम करे,
आज की रात तेरे,
नाम का गुणगान करे।।

तेरा नाम तेरा नाम आये मेरे काम,
साई राम साई राम बोलो बोलो साई राम।

साई भक्तो की तमन्ना है,
की शिरडी जाकर,
‘हयात’ साई के,
चरणों में ही विश्राम करे,
और कुछ आता नहीं,
आओ यही काम करे,
आज की रात तेरे,
नाम का गुणगान करे।।

तेरा नाम तेरा नाम आये मेरे काम,
साई राम साई राम बोलो बोलो साई राम।

आज की रात तेरे नाम का गुणगान करे,
और कुछ आता नहीं,
आओ यही काम करे,
आज की रात तेरे,
नाम का गुणगान करे।।

तेरा नाम तेरा नाम आये मेरे काम,
साई राम साई राम बोलो बोलो साई राम।

कोई जवाब दें

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम