बजरंग म्हारो सालासर वालो भजन लिरिक्स

0
745
बार देखा गया

बजरंग म्हारो सालासर वालो,
राम का सेवक अंजनी को लालो,
ज्योत जगावा थारी आज,
ज्योत जगावा थारी आज,
ओ बाबा म्हारी अरज सुणो।।



प्रेम से थारी ज्योत जगावा,

नारियल चूरमो भेंट चढ़ावा,
थारी करा रे मैं तो मनुहार,
ओ बाबा म्हारी अरज सुणो।।



आज दरबार में धूम मची है,

नाच नाच गावा म्हारे मन में जची है,
बाजे नगाड़ा करताल,
ओ बाबा म्हारी अरज सुणो।।



अंजनी के लाला थारी लीला निराली,

भगता री भरदे यो झोली खाली,
करीयो बेड़ो पार,
ओ बाबा म्हारी अरज सुणो।।



बजरंग म्हारो सालासर वालो,

राम का सेवक अंजनी को लालो,
ज्योत जगावा थारी आज,
ज्योत जगावा थारी आज,
ओ बाबा म्हारी अरज सुणो।।


आपको ये भजन कैसा लगा? हमें बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम