बाला जी तेरी जोत जगाई ओ दुनिया में ठोकर खाके

0
98
बार देखा गया
बाला जी तेरी जोत जगाई ओ दुनिया में ठोकर खाके

बाला जी तेरी जोत जगाई ओ,
दुनिया में ठोकर खाके।।



जब तक ना पढ़ लू चालीसा,

आता ना मेरे बाबा जी सा,
तेरे त मने प्रीत लगाई हो,
ओ दुनिया में ठोकर खाके,
बाला जी तेरी ज्योत जगाई ओ,
दुनिया में ठोकर खाके।।



घूम देखली दुनिया सारी,

तु ही मन बस गया बल कारी,
सुनी तेरी घणी बढ़ाई ओ,
ओ दुनिया में ठोकर खाके,
बाला जी तेरी ज्योत जगाई ओ,
दुनिया में ठोकर खाके।।



छोटा सा हो दरबार सजाया,

उस में हनुमत मने बिठाया,
मने तेरी सुरति लाई हो,
ओ दुनिया में ठोकर खाके,
बाला जी तेरी ज्योत जगाई ओ,
दुनिया में ठोकर खाके।।



मेरा गुरु सोना तेरा हो दीवाना,

परख लिया मने सारा ज़माना,
मने तेरी भक्ति भाई हो,
ओ दुनिया में ठोकर खाके,
बाला जी तेरी ज्योत जगाई ओ,
दुनिया में ठोकर खाके।।



बाला जी तेरी जोत जगाई ओ,

दुनिया में ठोकर खाके।।

गायक – सोनू कौशिक।
भजन प्रेषक – राकेश कुमार जी,
खरक जाटान(रोहतक)
( 9992976579 )


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम