है मतवाला मेरा रखवाला लाल लंगोटे वाला भजन लिरिक्स

0
3985
बार देखा गया
है मतवाला मेरा रखवाला लाल लंगोटे वाला भजन लिरिक्स

है मतवाला मेरा रखवाला,
लाल लंगोटे वाला,
ये सालासर वाला,
ये मेहंदीपुर वाला,
रोम रोम राम बसाए,
जपत राम की माला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।।



राम काज करने अवतारे,

राम प्रभु के काज सवारे,
अंजनी पुत्र राम के प्यारे,
सीताराम ह्रदय में धारे,
वीर है बंका तोड़ी गढ़ लंका,
वीर है बंका तोड़ी गढ़ लंका,
लंक जला झट डाला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।

हैं मतवाला मेरा रखवाला,
लाल लंगोटे वाला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।।



बाण लगा जब लक्ष्मण जी को,

पर्वत धोला लाए उठा के,
राम प्रभु को धीर बँधाए,
लक्ष्मण जी के प्राण बचाए,
पवन वेग से उड़ने वाला,
पवन वेग से उड़ने वाला,
अद्भुत रूप निराला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।

हैं मतवाला मेरा रखवाला,
लाल लंगोटे वाला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।।



भक्त पुकारे जब कोई सच्चा,

महाबली जी करते रक्षा,
बहुत पिशाच निकट नहीं आवे,
महावीर जो नाम सुनावे,
प्रकट कृपाला दीनदयाला,
प्रकट कृपाला दीनदयाला,
जग में करे उजाला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।

हैं मतवाला मेरा रखवाला,
लाल लंगोटे वाला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।।



है मतवाला मेरा रखवाला,

लाल लंगोटे वाला,
ये सालासर वाला,
ये मेहंदीपुर वाला,
रोम रोम राम बसाए,
जपत राम की माला,
ओ बाबा मेरा ये सालासर वाला,
ओ बाबा मेरा ये मेहंदीपुर वाला।।

स्वर – श्री मृदुल कृष्ण जी शास्त्री।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम