हमें तो जोगनिया बनाये गयो रे भजन लिरिक्स

0
1609
बार देखा गया
हमें तो जोगनिया बनाये गयो रे भजन लिरिक्स

हमें तो जोगनिया,
बनाये गयो रे,
वो छलिया नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे,
वो लाला नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे।।



आप तो जाए श्याम,

मथुरा बिराजे,
हमें तो गोकुल में,
बसाये गयो री,
वो छोरा नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे,
हमें तो जोगनियाँ,
बनाये गयो रे,
वो छलिया नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे।।



आप तो खावे श्याम,

माखन मिश्री,
हमें तो खटी छछिया,
पिलाई गयो री,
वो छोरा नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे,
हमें तो जोगनियाँ,
बनाये गयो रे,
वो छलिया नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे।।



आप तो जाए श्याम,

मथुरा बिराजे,
हमें तो गोकुल में,
बसाये गयो री,
वो छोरा नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे,
हमें तो जोगनिया,
बनाये गयो रे,
वो छलिया नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे।।



मोहन के सिर पर,

मुकुट विराजे,
हमारे सर जटा,
रखाये गयो री,
वो छलिया नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे,
हमें तो जोगनिया,
बनाये गयो रे,
वो छलिया नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे।।



हमें तो जोगनिया,

बनाये गयो रे,
वो छलिया नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे,
वो लाला नन्द को री,
जोगनिया बनाये गयो रे।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम