मेरे बांके सनम तुमको मेरी कसम भजन लिरिक्स

2
2703
बार देखा गया
मेरे बांके सनम तुमको मेरी कसम भजन लिरिक्स

मेरे बांके सनम,
तुमको मेरी कसम,
आ गई दर तेरे,
अब तो परदा हटा,
मेरे बांके सनम,
तुमको मेरी कसम,
आ गई दर तेरे,
अब तो परदा हटा,

तेरे किस्से सुने,
मैने सपने बुने,
अब दिखाओ,
जरा अपनी बांकी छटा।।

तर्ज – मेरे रश्के क़मर।



नैन तिरछे तेरे,

प्रेम प्याले भरे,
मिले कैसे नजर,
अब तो परदा हटा,
मेरे बांके सनम,
तुमको मेरी कसम,
आ गई दर तेरे,
अब तो परदा हटा।
अब दिखाओ,
जरा अपनी बांकी छटा।।



याद तुमने किया,

मेरे बांके पिया,
अब दिखाओ जरा,
अपनी बांकी छटा,
मेरे बाँके सनम,
तुमको मेरी कसम,
आ गई दर तेरे,
अब तो परदा हटा।
अब दिखाओ,
जरा अपनी बांकी छटा।।



थी अकेली यहाँ,

जिंदगी में तनहा,
होके सबसे जुदा,
अब तो परदा हटा,
मेरे बाँके सनम,
तुमको मेरी कसम,
आ गई दर तेरे,
अब तो परदा हटा।
अब दिखाओ,
जरा अपनी बांकी छटा।।



मेरे बांके सनम,

तुमको मेरी कसम,
आ गई दर तेरे,
अब तो परदा हटा,
मेरे बाँके सनम,
तुमको मेरी कसम,
आ गई दर तेरे,
अब तो परदा हटा,

तेरे किस्से सुने,
मैने सपने बुने,
अब दिखाओ,
जरा अपनी बांकी छटा।।


2 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम