ओ माँ मेरी पत रखियो सदा लाटावालीये भजन लिरिक्स

0
1350
बार देखा गया
ओ माँ मेरी पत रखियो सदा लाटावालीये भजन लिरिक्स

ओ माँ मेरी पत रखियो सदा,
लाटावालीये,
दुखिया को, पापन को,
दे दे सहारा,
तेरा मंदिर है न्यारा,
मुझे भी दे उजियारा,
मिटे मन का अंधियारा,
ओ माँ मेरी ओ माँ मेरी।।

मोह माया के तोड़ के बंधन,
तेरे द्वारे आ गई जोगन,
कोई नही मेरा तेरे सिवा,
लाटावालीये,
कोई नही मेरा,….
कोई नही मेरा तेरे सिवा,
लाटावालीये,
मे दुखियारी शरण तिहारी,
झोली है खाली,
में आयी बन के सवाली,
ओ माता लाटावाली,
उचे मंदिरावली,
ओ मा मेरी पत रखियो सदा लाटावालीये।।

सुनी सुनी गोद भरे तू,
माता सब के कष्ट हरे तू,
कोई नही मेरा तेरे सिवा,
लाटावालीये,
कोई नही मेरा, २
तेरे सिवा लाटावालीये,
पूजा के श्रद्धा के,
जो फूल लाए,
वो जो माँगे सो पाए,
तू बिगड़ी बात बनाए,
तू सब के भाग्य जगाए,
ओ मा मेरी पत रखियो सदा लाटावालीये।।

माता तुहे शक्ति शाली,
जग मे तेरी ज्योत निराली,
कोई नही मेरा,
तेरे सिवा लाटवालिए,
कोई नही मेरा,
कोई नही मेरा,
तेरे सिवा लाटवालिए,
युग युग से भक्तो के,
दुखड़े निवारे,
शहंशाह आए द्वारे
और जैसे अटक नज़ारे
तेरी शक्ति से हारे
ओ मा मेरी पाट
राखियो सदा लाटवालिए
दुखियाँ को पापन को
दे दे सहारा
तू बिगड़ी बात बनाए
तू सब के भाग्य जगाए
ओ माता लाटावालि,
ओ उचे मंदिरावाली,
ओ मा मेरी पत रखियो सदा लाटावालीये।।

ओ माँ मेरी पत रखियो सदा,
लाटावालीये,
दुखिया को, पापन को,
दे दे सहारा,
तेरा मंदिर है न्यारा,
मुझे भी दे उजियारा,
मिटे मन का अंधियारा,
ओ माँ मेरी ओ माँ मेरी।।

आपको ये भजन कैसा लगा? हमें बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम