प्रथम निमंत्रण आपको गजानंद सरकार भजन लिरिक्स

0
3292
बार देखा गया
प्रथम निमंत्रण आपको गजानंद सरकार भजन लिरिक्स

प्रथम निमंत्रण आपको,
गजानंद सरकार,
मेरा कीर्तन सफल बना दो,
कर लो विनती स्वीकार,
प्रथम निमंत्रण आपको,
गजानंद सरकार।।

तर्ज – मेरे सर पर रखदो बाबा।



सब देवों में सबसे पहले,

होती तेरी ही पूजा,
तीनों लोकों में नहीं देखा,
देव नहीं तुमसा दूजा,
बेगा बेगा आ जाओ,
ओ मूषक के असवार,
प्रथम निमंत्रण आपकों,
गजानंद सरकार।।



निर्बल को बल देने वाले,

कोढ़िन को देते काया,
यम कुबेर दिगपालों ने भी,
भेद तुम्हारा ना पाया,
तेरी तीन लोक में महिमा,
गूंजे है जय जयकार,
प्रथम निमंत्रण आपकों,
गजानंद सरकार।।



रिद्धि और सिद्धि के दाता,

आकर मान बढ़ा जाओ,
प्रेम भाव से करे प्रार्थना,
आकर भोग लगा जाओ,
क्या सोच रहे मनमौजी,
अब कैसा सोच विचार,
प्रथम निमंत्रण आपकों,
गजानंद सरकार।।



प्रथम निमंत्रण आपकों,

गजानंद सरकार,
मेरा कीर्तन सफल बना दो,
कर लो विनती स्वीकार,
प्रथम निमंत्रण आपकों,
गजानंद सरकार।।
Singer : Madhvi Sharma


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम