संकट मोचन तेरे नाम से ही हर संकट टल जाता है भजन लिरिक्स

0
590
बार देखा गया
संकट मोचन तेरे नाम से ही हर संकट टल जाता है भजन लिरिक्स

संकट मोचन तेरे नाम से ही,
हर संकट टल जाता है,
हो जाए जिसपे एक नजर,
जीवन ही संभल जाता है,
संकर मोचन तेरे नाम से ही।।

तर्ज – तेरे चेहरे में वो जादू है।



सुनके नाम शनि भग जाए,

भुत पिशाच निकट नहीं आए,
व्याधा पास भटक नहीं पाए,
हे महावीर बजरंगी,
थर थर दुष्ट नाम सुन कापे,
पल भर ना टिक सके वहां पे,
तेरी चर्चा होए जहाँ पे,
हे राम भक्त सत्संगी,
हर दैत्य असुर सुन नाम तेरा,
तेरे चरणों में गिर जाता है,
तेरे चरणों में गिर जाता है,
संकर मोचन तेरे नाम से ही।।



बाबा लाल लंगोटे वाले,

है तेरे हर खेल निराले,
खोलो तुम किस्मत के ताले,
जो भी द्वार तुम्हारे आए,
सबके बिगड़े काज सँवारे,
पल में हर विपदा को टाले,
पल में क्या से क्या कर डाले,
कोई पार ना तेरा पाए,
तेरी लीला तो प्रभु तेरे सिवा,
कोई ना समझ पाता है,
कोई ना समझ पाता है,
संकर मोचन तेरे नाम से ही।।



तुमको ध्याये पंडित ज्ञानी,

योगी सन्यासी और ध्यानी,
लीला चारो वेद बखानी,
तुलसी रामायण को गाए,
तुम हो राम नाम के रसिया,
प्रभु राम चंद्र मन बसिया,
सेवक मात जानकी के जसिया,
तुम्हे राम कथा मन भाए,
हे दुखभंजन तेरे द्वारे पे,
सारा जग झोली फैलता है,
सारा जग झोली फैलता है,
संकर मोचन तेरे नाम से ही।।



सबका मंगल तुम ही करते,

सबके दुखड़े तुम ही हरते,
खुशियो से झोली तुम भरते,
हे पवन पुत्र बलधारी,
सबकी पार लगाते नैया,
बन करके तुम नाथ खिवैया,
हे अंजनी मैया के छैया,
हे शंकर के अवतारी,
हे मारुती नंदन जग सारा,
तेरे ही भजन गाता है,
तेरे ही भजन गाता है,
संकर मोचन तेरे नाम से ही।।



संकट मोचन तेरे नाम से ही,

हर संकट टल जाता है,
हो जाए जिसपे एक नजर,
जीवन ही संभल जाता है,
संकर मोचन तेरे नाम से ही।।


आपको ये भजन कैसा लगा? जरूर बताए।

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम