श्री राम की गली में तुम जाना वहां नाचते मिलेंगे हनुमाना भजन लिरिक्स

0
481
बार देखा गया
श्री राम की गली में तुम जाना वहां नाचते मिलेंगे हनुमाना भजन लिरिक्स

श्री राम की गली में तुम जाना …..
वहां नाचते मिलेंगे हनुमाना……..!!
तर्ज – मनिहारी का भेष बनाया 

उनके तन में है राम……
उनके मन में है राम…….!
अपनी आँखों से देखे वो कण कण में राम………..!!

श्री राम का वो हो गया दीवाना….
श्री राम का वो हो गया दीवाना …….
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना……..!!
श्री राम की गली में तुम जाना …..
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना……..!!


ऐसा राम जी से जोड़ लिया नाता……!!
जब भी देखो उन्ही के गुण गाता………!!

श्री राम के चरण में ठिकाना……
श्री राम के चरण में ठिकाना……
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना…!!
श्री राम की गली में तुम जाना …..
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना……..!!


उनसे कहना राम राम वो कहेंगे राम राम……!!
कुछ भी सुनते नहीं बस सुनेंगे राम राम……….!!

महामंत्र हे ये भूल नहीं जाना….
महामंत्र हे ये भूल नहीं जाना……
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना…….!!
श्री राम की गली में तुम जाना …..
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना……..!!


इतनी भक्ति वो बनवारी करने लगे……!!
उनके सीने में राम सिया रहने लगे……….!!

इस कहानी को जानता जमाना……
इस कहानी को जानता जमाना ……
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना……!!
श्री राम की गली में तुम जाना …..
वंहा नाचते मिलेंगे हनुमाना……..!!



इस भजन को हमारे मित्र,
रोहित राठौर जी ने,
झालरापाटन राजस्थान से भेजा है।

यदि आपके पास भी ऐसा कोई भजन है,
जिसे आप भजन डायरी पर जोड़ना चाहते है,
तो मुझे व्हाट्स एप्प या ईमेल के माध्यम से,
भेज सकते है।
व्हाट्सएप्प नंबर: 7879091101
ईमेल: bhajandiary@gmail.com

कोई जवाब दें

आपकी प्रतिक्रिया
आपका नाम